Back
Home » बॉलीवुड
मैं हूं ना के ब्लॉकबस्टर होने के बाद मुझे हमेशा बड़े बजट की फिल्में मिलीं - फराह खान
Oneindia | 22nd Oct, 2019 11:19 PM
  • नहीं थे पहली पसंद

    फराह ने बताया कि सुनील शेट्टी कभी उनका ऑप्शन ही नहीं थे। वो चाहती थीं कि ये रोल नसीरूद्दीन शाह करें लेकिन उन्होंने इतने दिन की शूटिंग के लिए मना कर दिया। इसलिए फराह ने उन्हें शाहरूख - ज़ाएद के पिता का किरदार करने के लिए मनाया। इसके बाद वो कमल हासन से मिलने चेन्नई गईं लेकिन उन्होंने भी पढ़ते ही फिल्म मना कर दी।


  • कहां से आया टाईटल

    फिल्म में सुष्मिता सेन को टीचर के रूप में ऐसे देखने के बाद बॉलीवुड में टीचर का ट्रेंड ही बदल गया था। वहीं फराह ने अब्बास टायरवाला को फिल्म में एक ऐसी लाइन लिखने को कहा था जिससे वो अपने भाई को खुद पर भरोसा दिला सकें और यहीं से फिल्म की लाईन मैं हूं ना आई।


  • मैंने बनाया माचो

    फराह खान ने अपने इंटरव्यू के दौरान बताया कि मैंने सुना था कि शाहरूख बहुत अच्छा एक्शन करते हैं लेकिन उन्हें केवल रोमांटिक फिल्में मिलती थीं। तो मैंने उनको 70 के दशक का फील और लुक देते हुए वो माचो इमेज देेने की कोशिश की जिस पर वो फिट बैठें।


  • सर खा लेते थे ज़ायद खान

    फराह ने बताया कि शूटिंग के दौरान ज़ायद खान उनका सर खा लेते थे। वो महीनों तक अपने सीन की रिहर्सल करते थे लेकिन शूटिंग के समय कुछ और बोल देते थे। फराह ने बताया अपने सबसे इमोशनल सीन के दौरान, ज़ायद अपने पिता के बारे में बात करते हैं और महीनों की प्रैक्टिस के बाद ये बोल गए कि उनके पिता नेवी में थे। जबकि फिल्म में उनके पिता नसीरूद्दीन शाह एक आर्मी ऑफिसर थे।


  • अमृता राव से परेशान

    फराह खान की मुश्किलें यहीं खत्म नहीं हुई थीं। उन्होंने बताया कि एक सीन में अमृता को साईकिल चलानी थी लेकिन शूटिंग से पहले अमृता ने बताया कि उन्हें साईकिल चलानी नहीं आती है। फराह ने उनसे कहा कि तीन घंटे में सीख कर आओ जो कि नामुमिकन था। अंत में शाहरूख ने सीन में साईकिल चलाई और अमृता उनके पीछे खड़ी नज़र आईं।


  • लोग कहते थे धोखेबाज़ शाहरूख

    फराह ने बताया कि जैसे ही उन्होंने शाहरूख को फिल्म की स्क्रिप्ट सुनाई थी, शाहरूख इसे प्रोड्यूस करने को भी तैयार हो गए थे। फिर भी फिल्म तीन साल बाद शुरू हो पाई। इस बीच सबने उनसे यही कहा कि शाहरूख उन्हें लटका रहे हैं और फिल्म नहीं करेंगे लेकिन उन्हें शाहरूख पर पूरा भरोसा था।


  • खूब रोई थीं

    फराह खान ने बताया कि जब फिल्म रिलीज़ हुई तो दो दिन वो खूब रोई थीं क्योंकि एक न्यूज़पेपर ने पहले पेज पर उनकी फिल्म का रिव्यू छापा था और आधा स्टार दिया था। फराह को लगा था कि उनका करियर खत्म हो गया। फराह बताती हैं कि मयंक शेखर के उस रिव्यू ने उनका दिल तोड़ दिया था।


  • धमाकेदार फिल्म

    फिर फराह को एक डिस्ट्रीब्यूटर ने फोन करके कहा कि थियेटर जाकर फिल्म देखो। फराह ने देखा लोग हंस रहे हैं, गा रहे हैं तालियां बजा रहे हैं। उनकी जान में जान आई। इसके बाद बॉक्स ऑफिस पर भी फिल्म ने कमाल किया और साल की सबसे ज़्यादा कमाने वाली फिल्म बनी।


  • रूक रूक कर शूटिंग

    फराह ने बताया कि शाहरूख खान उस दौरान कई फिल्मों की शूटिंग कर रहे थे - कल हो ना हो, असोका, चलते चलते। उसी दौरान उन्हें सर्जरी करवानी थी। चूंकि कल हो ना हो में कोई एक्शन सीन नहीं था तो वो फिल्म पूरी हो गई मैं हूं ना के लिए उन्हें रूकना पड़ा।


  • हंसते हंसते एक्शन

    फराह खान चाहती थीं कि फिल्म का एक्शन भारी भरकम ना होकर ऐसा हो कि औरतों और बच्चों को भी पसंद आए। और इसलिए फराह ने फिल्म के एक्शन को कॉमेडी रखने की कोशिश की।




फराह खान ने एक इंटरव्यू में बताया कि मैं हूं ना डायरेक्ट करने के बाद उन्हें फिल्में बनाने के लिए हमेशा बड़ा बजट ऑफर हुआ है और यही उनके लिए सबसे बड़ा प्रेशर है।

फराह खान ने एक इंटरव्यू में बताया कि मैं हूं ना डायरेक्ट करने के बाद उन्हें हमेशा बड़े बजट की फिल्में ही ऑफर हुईं। इसलिए उनकी दिक्कत है कि इस प्रेशर को झेल पाना कि इतना बड़े बजट में एक बेहतरीन फिल्म बना पाएं।

डायरेक्टर के तौर पर अपनी पहली फिल्म मैं हूं ना के बारे में बात करते हुए फराह ने बताया कि उस वक्त बॉलीवुड में ज़्यादा महिला फिल्ममेकर नहीं थी। इसलिए मेरे आने से चीज़ें बदलीं। मैं ऐसी फिल्ममेकर थी जो कॉमर्शियल सिनेमा बना रही थी।

फराह ने बताया कि मैं हूं ना के हिट होने के बाद उन्हें फिल्मों का बजट पास करवाने में काफी आसानी होती थी। प्रोड्यूसर खुशी खुशी उन्हें बड़ा बजट देते थे लेकिन उनकी दिक्कत होती थी इस बड़े बजट को सलीके से इस्तेमाल करना और इसे बेकार नहीं जाने देना।

मैं हूं ना के बाद फराह खान ने ओम शांति ओम और हैप्पी न्यू ईयर बनाई। उनकी तीनों ही फिल्में ब्लॉकबस्टर है। अब फराह खान रोहित शेट्टी के साथ मिलकर सत्ते पे सत्ता रीमेक बनाने जा रही है। उस फिल्म का बजट भी काफी बड़ा है।

देखिए मैं हूं ना से जुड़िए कुछ बेहद दिलचस्प बातें -

   
 
स्वास्थ्य