Back
Home » Business
Axis Bank को 112.1 करोड़ रुपए का घाटा, जबकि कोटक महिंद्रा बैंक का हुआ मुनाफा
Good Returns | 22nd Oct, 2019 05:57 PM

नई द‍िल्‍ली: वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में एक्सिस बैंक को 112 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। वहीं कॉरपोरेट टैक्स में बदलाव की वजह से वन टाइम टैक्स इंपैक्ट 2138 करोड़ रुपये रहा, जिसकी वजह से बैंक को घाटा हुआ। एक साल पहले की समान तिमाही में बैंक को करीब 790 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। जबकि जून तिमाही में बैंक का मुनाफा करीब 1370 करोड़ रुपये रहा था। हालांकि इस दौरान बैंक के एनपीए में कमी आई है और एनआईएम 9 तिमाही में सबसे ज्यादा रहा है।

व‍हीं दूसरी तिमाही में एक्सिस बैंक का एनआईएम 3.51 फीसदी रहा है, जो पिछले 9 तिमाही में सबसे ज्यादा है। वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में बैंक की ब्याज आय 16.6 फीसदी बढ़कर 6,102 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। एक साल पहले की समान अवधि में बैंक की ब्याज आय 5,232.1 करोड़ रुपये रही थी।

बैंक का ग्रॉस एनपीए 5.25 फीसदी घटा

तिमाही आधार पर बैंक का ग्रॉस एनपीए 5.25 फीसदी से घटकर 5.03 फीसदी रहा है। जबकि नेट एनपीए 2.04 फीसदी से घटकर 1.99 फीसदी रहा है। रुपये में नेट एनपीए 11,037 करोड़ रुपये से मामूली बढ़कर 11,138 करोड़ रुपये रहा। जबकि इस दौरान ग्रॉस एनपीए 29,405 करोड़ रुपये से बढ़कर 29,071 करोड़ रुपये रहा है। वहीं दूसरी तिमाही में कंपनी के 4983 करोड़ रुपये के नए एनपीए सामने आए, जबकि पिछले तिमाही में 4798 करोड़ रुपये के नए एनपीए आए थे।

प्रोविजनिंग में आई कमी

तिमाही आधार पर एक्सिस बैंक की प्रोविजनिंग 3,814.6 करोड़ रुपये से घटकर 3,518.4 करोड़ रुपये रही है। एक साल पहले की समान अवधि में प्रोविजनिंग 2,927.4 करोड़ रुपये रही थी। तिमाही आधार पर बैंक की प्रोविजनिंग कवरेज रेश्यो 78 फीसदी से बढ़कर 79 फीसदी रही है।

कोटक महिंद्रा बैंक को 1725 करोड़ का मुनाफा

दूसरी ओर कोटक महिंद्रा बैंक का स्टैंडअलोन मुनाफा वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में करीब 51 फीसदी बढ़ गया है। इस दौरान बैंक को 1724.5 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ। बता दें कि एक साल पहले की समान तिमाही में बैंक को 1141.6 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। इस दौरान बैंक की ब्याज आय में भी इजाफा हुआ है। और तो बैंक का एनपीए भी बढ़ा है। वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में कोटक महिंद्रा बैंक की ब्याज आय 25.2 फीसदी बढ़कर 3,349.6 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में बैंक की ब्याज आय 2,676.3 करोड़ रुपये रही थी। जबकि, कंसो ब्याज आय 24.2 फीसदी बढ़कर 4,364.4 करोड़ रुपये रही है। यह एक साल पहले की समान अवधि में 3512.7 करोड़ रुपये रही थी।

   
 
स्वास्थ्य